iNewz.in Hindi News

Aaj Ka Shabd Manobal Ramnaresh Tripathi Best Poem Yuvkon Ki Ranyatra

                
                                                             
                            अमर उजाला 'हिंदी हैं हम' शब्द श्रृंखला में आज का शब्द है- मनोबल, जिसका अर्थ है- मन की शक्ति या साहस। प्रस्तुत है रामनरेश त्रिपाठी की कविता- युवकों की रण यात्रा 
                                                                     
                            

(1) 

जय के दृढ़ विश्वास-युक्त थे 
दीप्तिमान जिनके मुख-मंडल 
पर्वत को भी खंड-खंड कर 
रज-कण कर देने को चंचल 
फड़क रहे थे अति प्रचंड भुज— 
दंड शत्रु-मर्दन को विह्वल 
ग्राम-ग्राम से निकल-निकलकर 
ऐसे युवक चले दल के दल। 

(2) 

अपने शयनागार बंद कर 
दिए नवोढ़ाओं ने तत्क्षण 
बाँध दिए पतियों की कटि में 
असि, कलाइयों में रण-कंकण... 
माताओं ने विजय-तिलक कर 
छिड़के थे जिन पर पवित्र जल 
ग्राम-ग्राम से निकल-निकलकर 
ऐसे युवक चले दल के दल। 

आगे पढ़ें

2 minutes ago

.

Leave a Reply